jagate raho

Just another weblog

407 Posts

993 comments

Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.
blogid : 12455 postid : 1360034

ये है आप की सरकार

Posted On 3 Nov, 2017 में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

तेरा मुकदमा जारि है क्योंकि तू व्यापारी है,
वकील तेरा मसखरा, पर विधाता क्रिकेट खिलाड़ी है !
वह छके पे छका मारे, तू बॉलों से डर जाता है,
इसी लिए कोर्ट में जाकर अपनी कम्लेंट लिखाता है !
अरविन्द केजरीवाल बोले :-
“मैं दिल्ली का चीफ मिनिस्टर, पावर एलजी ने छीनी,
केवल कुर्सी पर बैठने की सीमा निर्धारित किनी !
जनता का काम करना मैं चाहूँ, केंद्र न करने देता,
हर काम में अड़ंगा डाले, लगाता नया पलीता” !
दिल्ली की जनता बोली :-
“झूट बोले कौवा काटे, काले कुक्कर से डरियो,
पिछली सरकारों ने काम किया, वैसे ही करियो,
वैसे ही करियो, अगर करना चाहो कुछ काम,
अपनी कमी छिपाने को केंद्र को करो न बदनाम,
मतदाता नकली चेहरों को नहीं, पर काम देखते हैं
सीएम की कुर्सी जनता ने दी, वापिस ले सकते है” !
पिछली सरकार ने जो काम किया, आप वहीँ पर अटकी है,
केंद्र से एलजी से झगड़ा, रस्सी बाँध के लटकी है !
अन्ना हजारे को गुरु बनाया, उन्होंने भी किया किनारा,
काम ढेले का नहीं, और लगाए करोड़ों का नारा !
लाल धागा हर मंत्री के हाथों, केवल धागा नहीं ये राखी है,
एलजी से झटका, कोर्ट से झटका जनता का झटका बाकी है !!
आगे आगे देखे होता होता क्या !

चलो चलें गंगा के पार,
वहां से लगाएं एक लम्बी पुकार,
उसको जिसने हमें धरती पर उतारा,
खुद मौन होगया, करके हमसे किनारा !
एक बार नजर उठा के देख तो लेते,
इस पञ्च तत्व के पुतले को,

ये दिवाली बिना बम पटाकों की होगी, इसमें जगमग जगमग दीप जलेंगे,
अयोध्या में १४ साल बाद भगवान राम लक्ष्मण और माता सीता जी,
प्रवेश करेंगे, अयोध्यावासी एक लाख सतासी हजार ३२३ दीप
से सरयू नदी को सजाकर भगवान् राम का स्वागत करेंगे जय श्री राम
राम भक्त हनुमान !

शादी विवाह, जन्म दिन या हो कोई त्यौहार,
वरिष्ठ नागरिक सोसिएटी में पाते हैं सत्कार !
पाते हैं सत्कार, वरिष्ठों को इज्जत दो,
वे खुश होंगे मनचाहा आशीर्वाद लो !

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

5 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

Shobha के द्वारा
November 4, 2017

श्री रावत जी आप लिखते हैं मन से लिखते हैं हर लाइन आपके मन के भावों को स्पष्ट करती है श्री रावत जी मैं कुछ संस्थाओं से जुडी हूँ उनमें सबसे अधिक सीनियर सिटीजन हैं अब वह समय गया जब आप यह सोचें हम समाज के काम के नहीं रहे या हमारे िचार पुराने हो गए यहीं समय है अपनी जिम्मेदारियों से निपट कर कुछ करने का बुध्दि जीवी लिखना पढ़ना जानता है आप लिखते रहिये वहुत अच्छा लिखते हैं सोचने पर मजबूर करते हैं कभी – कभी कुछ कम्प्यूटर की खामी है प्रतिक्रिया नहीं जाती आज ठीक है मेरा इंटर नेट खराब था मुझे भी जिद थी एमटीएनएल से ही लिखूंगी मैं पूरी तरह स्वदेशी मैं विशवास करती हूँ

    harirawat के द्वारा
    November 5, 2017

    शोभाजी नमस्कार, आपकी टिप्पणी सच पूछो मुझे एक नयी ऊर्जा देती है ! इसी तरह सकारात्मक हौसला बढ़ाकर डिसा निर्देशन करते रहें ! शुभ कामनाओं के साथ हरेंद्र

Rajesh Kumar Srivastav के द्वारा
November 4, 2017

चाचा जी प्रणाम / तकनिकी खामियों ने जागरणजंक्शन के पाठकों और ब्लगारों को बहुत निराश कर दिया है / आपकी कविता काफी सराहनीय है /

    harirawat के द्वारा
    November 5, 2017

    राजेश बेटे, खुश रहो, मैं भी कम्यूटर की तकनीकी खराबियों से परेशान हूँ ! बेटे तुमने सकारात्मक टिप्पणी देकर चाचा का मष्तक ऊपर कथा दिया ! बहुत सारा आशीर्वादों के साथ !

harirawat के द्वारा
November 4, 2017

जागरणजंकशन प्रेमियों, िधा बह नजर उठाओ, मेरी कविता मत पढ़ो पर जागरण ब्लॉग पर आओ ! ों


topic of the week



latest from jagran